प्रमुख साहित्यिक रचनाएँ (Prominent Literary Marks)

Sr. No.
रचना
रचनाकार
विशेष तथ्य
1
अष्टाध्यायी
पाणिनि
व्याकरण ग्रन्थ
2
महाभाष्य (अष्टाध्यायी पर टीका )
पतंजलि
पुण्यमित्र शुंग के विषय में जानकारी मिलती है
3
निरुक्त
यास्क
वैदिक शब्दों की व्युत्पत्ति का विवेचन है एवं छंद शास्त्र और ज्योतिष शास्त्र का उल्लेख
4
मुद्राराक्षस
विशाखदत्त
मौर्य काल
5
परिशिष्ट पर्व
हेमचंद
मौर्य काल (चंद्रगुप्त )
6
सम्रादित्यकथा, कथाकोश
हरिभद्रसूरी
जैन धर्म
7
कुवलयमाला
उधोतनसूरी
8
आदि पुराण
जिनसेन
9
उत्तर पुराण
गुणभद्र
10
कथासरित्सागर
सोमदेव
मौर्य काल
11
वृहतकथामंजरी
क्षेमेन्द्र
मौर्य काल
12
अर्थशास्त्र
कौटियल / विष्णुगुप्त
13
नीतिसार
कामंदक
गुप्तकालीन राज्यतंत्र पर कुछ प्रकाश पड़ता है
14
नीतिवाक्यामृत
सोमदेव सूरी
गुप्तकालीन राज्यतंत्र पर कुछ प्रकाश पड़ता है
15
मालविकागिनमित्रम
कालिदास
शुंगवंश के बारे में जानकारी
16
रघुवंशम
कालिदास
समुन्द्रगुप्त की दिगिवजय
17
मृच्छकटिकम
शूद्रक
गुप्तकालीन समाज का वर्णन
18
दशकुमार चरित
दण्डी
गुप्तकालीन समाज का वर्णन
19
हर्ष चरित
बाणभट्ट
हर्ष की उपलब्धियों का वर्णन
20
गौड़वहो
वक्रपति
कन्नौज के शासन यशोवर्मा का इतिहास
21
विक्रमांकदेवचरित
बिल्हण
कल्याणी के परवर्ती चालुक्य नरेश विक्रमादित्य की उपलब्धियों का वर्णन
22
रामचरित
संध्याकर नंदी
बंगाल के शासन रामपाल की जीवनकथा
23
कुमार पाल चरित
जयसिंह
गुजरात के शासन कुमार पाल की उपलब्धियों का वर्णन
24
द्दयाश्रय काव्य
हेमचंद्र
गुजरात के शासन कुमार पाल की उपलब्धियों का वर्णन
25
नवसाहसांक चरित
पदमगुप्त
परमार वंश का वर्णन
26
पृथ्वीराज विजय
जयानक
पृथ्वीराज चौहान की उपलब्धियों का वर्णन
27
पृथ्वीराजरासो
चंदबरदाई
पृथ्वीराज चौहान की उपलब्धियों का वर्णन
28
प्रबंध चिंतामणि
मेरुतुंग
गुजरात के शासको का वर्णन
29
हम्मीर मद मर्दन
जयसिंह
गुजरात के शासको का वर्णन
30
राजतरंगिणी
कल्हण
कश्मीर के राजवंश की विस्तृत जानकारी मिलती है
31
परिशिष्टपर्वन
हेमचंद्र
जैन धर्म एवं मौर्यवंश

Post a Comment

0 Comments